PM Vishwakarma Yojana: बिना गारंटी के सरकार दे रही है 3 लाख रुपये, यहाँ जाने कैसे मिलेगा

PM Vishwakarma Yojana: केंद्र सरकार हमारे देश के युवाओं, किसानों और गरीबों के लिए नयी नयी योजनाएं लाती रहती है, ताकि उनको योजनाओं का लाभ मिल सके। उसी प्रकार केन्द्र सरकार एक और योजना लेकर आई है जिसका नाम प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना ( PM Vishwakarma Yojana) है। इस योजना का लाभ उन लोगों को दिया जाता है जो कुछ अपना खुद का व्यवसाय चलाते हैं या फिर शुरू करना चाहते हैं। अब तक लाखों लोगों को पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ मिल चुका है यदि आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको इस योजना में आवेदन करना होगा।

PM Vishwakarma Yojana
PM Vishwakarma Yojana

पीएम विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार द्वारा 3 लाख रुपये तक का लोन भी दिया जाता है। इस योजना के तहत कुछ योग्यता और कुछ पत्रताएँ भी रखी गयी है, यदि आप इसकी पात्रताओं को पुड़ा करते हैं तो आप भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

आज हमने इस आर्टिकल में बताने वाले हैं कि आप किस प्रकार पीएम विश्वकर्मा योजना में आवेदन कर सकते हैं। और साथ ही इस योजना की योग्यता, लाभ, दस्तावेज, पात्रता सभी की जानकारी देने वाले हैं। इसलिए इस पोस्ट को आखरी तक जरूर पढ़ें, ताकि आपको सारी जानकारी मिल सके।

PM Vishwakarma Yojana

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना केन्द्र सरकार द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण योजना है, इस योजना की शुरुआत देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा 1 फरवरी 2023 को किया गया था। इस योजना के अंतर्गत सभी पात्र लाभर्थियों को विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण और ट्रेनिंग दी जाती है, साथ ही प्रशिक्षण के दौरान ₹500 की राशि भी दी जाती है। इसके अलावा भी सरकार द्वारा इस योजना के तहत विभिन्न प्रकार कर टूलकिट खरीदने के लिए ₹15000 की राशि भी दिया जाता है।

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत विश्वकर्मा समुदाय के सभी नागरिकों को 5 से 15 दिनों का फ्री प्रशिक्षण दिया जाता है। और साथ ही खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार द्वारा मात्र 5% व्याज डर पर ₹300000 तक का लोन भी प्राप्त कर सकते हैं। इस राशि को दो चरणों में दिया जाता है पहले चरण में 1 लाख रुपये और दूसरे चरण में 2 लाख रुपये के लोन दिया जाता है। 

PM Vishwakarma Yojana का उद्देश्य क्या है?

पीएम विश्वकर्मा योजना का मुख्य उद्देश्य है कि देश के कारीगरों और शिल्पकारी क्षेत्रों को बढ़ावा देना है। यह योजना देश के शिल्पकारों और कारीगरों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है, साथ ही कौशल विकास और उन्हें बाजार तक पहुंचने में मदद करती है। 

पीएम विश्वकर्मा योजना कारीगरी के क्षेत्र में रोजगारी को बढ़ाने में मदद करती है कारीगरों को दिया गया प्रशिक्षण और सहायता राशि से उन्हें और बेहतर कौशल विकसित करने में मदद मिलती है।

PM Vishwakarma Yojana का लाभ

विश्वकर्मा योजना के अंतर्गत पात्र कारीगरों को अधिकतम ₹3,00,000 तक का ऋण दो किस्तों में मिल सकता है। यह ऋण मात्र 5% की ब्याज दर पर दिया जाता है, जो कि बाजार की दरों से काफी कम है।

योजना के तहत कारीगरों को कौशल उन्नयन के लिए निःशुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम भी प्रदान किए जाते हैं। इन कार्यक्रमों में दो स्तर होते हैं – बुनियादी (5-7 दिन) और उन्नत (15 दिन या उससे अधिक)। प्रशिक्षण के दौरान प्रतिदिन ₹500 का वजीफा भी दिया जाता है।

सरकार कारीगरों को टूल किट खरीदने के लिए ₹15,000 तक की राशि भी प्रदान करती है। यह राशि ई-वाउचर के रूप में दी जाती है।

योजना के तहत पंजीकृत कारीगरों को “विश्वकर्मा” के रूप में मान्यता दी जाती है। उन्हें इसके लिए एक प्रमाण पत्र और पहचान पत्र भी दिया जाता है।

योजना डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन भी देती है। हर महीने अधिकतम 100 डिजिटल लेनदेन करने पर लाभार्थी के खाते में ₹1 प्रति लेनदेन जमा किया जाता है।

PM Vishwakarma Yojana में कौन आवेदन कर सकता है?

पीएम विश्वकर्मा योजना के तहत वाही आवेदन क्र सकते हैं जो विश्वकर्मा समुदाय के अंतर्गत आते हों, यह योजना 18 तरह के शिल्पों से जुड़े कारीगरों और शिल्पकारों के लिए है। कुछ प्रमुख व्यापारों के नाम शामिल हैं: जो इस प्रकार है –

  • बढ़ई (सुथार/बढ़ई)
  • नाव बनाने वाला
  • शस्त्र बनाने वाला
  • लोहार
  • हथौड़ा और उपकरण किट बनाने वाला
  • ताला बनाने वाला
  • सुनार (सोनी)
  • कुम्हार
  • मूर्तिकार (मूर्तिकार, पत्थर खोदने वाला)
  • पत्थर तोड़ने वाला
  • मोची (चर्मकार)/ जूता बनाने वाला/ ज footwear शिल्पकार
  • राजमिस्त्री
  • टोकरी/चटाई/झाड़ू बनाने वाला/ कयर बुनकर
  • गुड़िया और खिलौना बनाने वाला (पारंपरिक)
  • नाई
  • माला बनाने वाला (मालाकार)
  • धोबी
  • दर्जी
  • मछली जाल बनाने वाला

PM Vishwakarma Yojana हेतु आवश्यक दस्तावेज:

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • अनुभव प्रमाण पत्र (यदि कोई हो)
  • व्यावसायिक विवरण (यदि कोई हो)

PM Vishwakarma Yojana की पात्रता

पीएम विश्वकर्मा योजना की कुछ पात्रताएं राखी गयी है जिसे पूरा करना अनिवार्य है जो इस प्रकार है –

  • योजना के तहत आवेदन करने के लिए, आवेदक की आयु 18 वर्ष से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदक को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक को योजना के तहत निर्दिष्ट 18 व्यापारों में से किसी एक में कुशल होना चाहिए।
  • आवेदक का परिवार की वार्षिक आय ₹2 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

PM Vishwakarma Yojana में आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले, आपको पीएम विश्वकर्मा योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmvishwakarma.gov.in/ पर जाना होगा।
  • होम पेज पर, आपको “ऑनलाइन आवेदन करें” बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपना आधार कार्ड नंबर या मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा और OTP प्राप्त करना होगा।
  • OTP दर्ज करने के बाद, आपको अपना पंजीकरण पूरा करना होगा और आवेदन पत्र भरना होगा।
  • आवेदन पत्र भरते समय, आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी, योग्यता, अनुभव और व्यावसायिक विवरण प्रदान करना होगा।
  • आपको आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन प्रतियां भी अपलोड करनी होंगी।
  • सभी जानकारी भरने और दस्तावेज अपलोड करने के बाद, आपको अपना आवेदन पत्र जमा करना होगा।
  • आपका आवेदन जमा होने के बाद, आपको एक आवेदन संख्या प्राप्त होगी।
  • आप अपनी आवेदन स्थिति को आवेदन संख्या का उपयोग करके वेबसाइट पर ट्रैक कर सकते हैं।

नमस्कार दोस्तों, आज के इस पोस्ट में हमने पीएम विश्वकर्मा योजना के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है| आशा करता हूँ की यह जानकारी आप लोगों के लिए मददगार होगी, ऐसे ही और जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर आते रहें| और इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें, धन्यवाद…!

नमस्कार, मेरा नाम देवशरण है, मैं इस वेबसाईट के माध्यम से आप लोगों तक सरकारी योजना, शिक्षा, नौकरी और ट्रेंडिंग खबरों की जानकारी साझा करता हूँ। आशा करता हूँ हमारे द्वारा दिया गया जानकारी आप लोगों के लिए मददगार होगा, धन्यवाद...!

Share This:

1 thought on “PM Vishwakarma Yojana: बिना गारंटी के सरकार दे रही है 3 लाख रुपये, यहाँ जाने कैसे मिलेगा”

Leave a Comment